test 6

अरमान नदीम की लघुकथा – बाज़ी पलट गयी

शहर से दूर राजपुर  नाम का एक गांव था । गांव के लोग बड़े सीधे, सच्चे और ईमानदार थे । गांव में सिर्फ एक...
test 7

प्रताप दीक्षित की कहानी – उपनिवेश

मेरी आखिरी पोस्टिंग उसी पुराने शहर में हो गयी थी, जहां पढ़ाई-लिखाई, नौकरी की शुरुआत हुई। एक अव्यक्त लगाव जैसा तो होता ही है। दफ्तर में...

अपनी बात

साक्षात्कार

कविता

व्यंग्य

कहानी

test 19

प्रताप दीक्षित की कहानी – उपनिवेश

मेरी आखिरी पोस्टिंग उसी पुराने शहर में हो गयी थी, जहां पढ़ाई-लिखाई, नौकरी की शुरुआत हुई। एक अव्यक्त लगाव जैसा तो होता ही है। दफ्तर में...

लघुकथा

test 6

अरमान नदीम की लघुकथा – बाज़ी पलट गयी

शहर से दूर राजपुर  नाम का एक गांव था । गांव के लोग बड़े सीधे,...
test 25

रेखा श्रीवास्तव की लघुकथा – सम्मान

उमर ने नेट से देखा कि नवरात्रि की पूजा में क्या क्या सामान लगता है...
test 26

डॉ. मीनाक्षी शर्मा की लघुकथा – आस के लिए

"सौ दिए लेने है मुझे, पैसे सही सही बताओ अम्मा..." "अरे ये तो टेढ़े मेढ़े और...
test 27

कल्पना मनोरमा की दो लघुकथाएँ

रँगरेज़ा की थापें घर में जब से स्वच्छंद विचारधारा वाली बहू सभ्यता, ब्याहकर आई थी तब...
test 28

रेखा श्रीवास्तव की लघुकथा – गेहूँ संग घुन

कोरोना ने बहुत सी जिंदगियों को कड़वे घूँट पिला कर मानवता, रिश्ते , प्रेम और...

पुस्तक समीक्षा

ग़ज़ल एवं गीत

पुस्तक समीक्षा : ऐसे, वैसे, कैसे-कैसे…!

एक लम्बे अरसे के इंतजार के बाद आलोचको ने आखिर लघुकथाओ को तवज्जो देना शुरू कर ही दिया। मुख्य धारा की पत्र-पत्रिकाओ में लघुकथा...

मेरे हिस्से की धूप : मानवतावादी दृष्टि

‘मेरे हिस्से की धूप’ नीना शर्मा ‘हरेश’ द्वारा रचित उपन्यास सन् २०२० में माया प्रकाशन ने प्रकाशित किया। इस उपन्यास ने बहुत ही जल्द...

डॉ. प्रणव भारती का गीत – फिर विदा लूं

test 33
मैं विरह की चाँदनी में गीत गा लूँ और थोड़ी देर तक सपने सजा लूँ तुम फ़लक पर सजे रहना चाँद बनकर श्वाँस की...

कैलाश सेंगर की ग़ज़लें : सब के नसीब में कहां इज़्ज़त की रोटियां

test 34
1 मेहनत के बाद भी मिलीं नफ़रत की रोटियां सब के नसीब में कहां इज़्ज़त की रोटियां आंखों से देखने...

लेख

फ़िल्म समीक्षा

test 35

अंजान : ओ साथी रे, तेरे बिना भी क्या जीना…!

कविता लिखने का शौक़ तो कालेज के दिनों से ही था। मित्रमण्डली में बैठ कर अपनी कविताएं सुनाया करते थे। उनकी कविताओं में भोजपुरी...