कोरोना काल के बाद काव्य रंग की पहली कविता गोष्ठी 7
रविवार 17 जुलाई 2022 की दोपहर 14.00 बजे नॉटिंघम यूके में काव्य रंग ने एक काव्य गोष्ठी का आयोजन किया। संस्था की अध्यक्ष जय वर्मा ने उपस्थित कवियों एवं मित्रों का स्वागत करते हुए कहा कि कोरोना महामारी के अढ़ाई वर्षो बाद ऐसा मौक़ा मिला है कि हम सब एक छत के नीचे एकत्रित होकर एक दूसरे के साथ बातचीत कर पा रहे हैं।
कार्यक्रम की मुख्य अतिथि थीं भारतीय उच्चायोग की हिन्दी एवं संस्कृति अधिकारी श्रीमती  नंदिता साहू। नंदिता जी ने प्रसन्नता ज़ाहिर करते हुए कहा कि काव्यरंग ने कोरोना काल के बाद एक बेहतरीन नई शुरूआत की है। 

कोरोना काल के बाद काव्य रंग की पहली कविता गोष्ठी 8कोरोना काल के बाद काव्य रंग की पहली कविता गोष्ठी 9

गोष्ठी में भारत से डॉ. फ़िदा हुसैन (लखनऊ), डॉ. प्रभा मिश्रा (भोपाल),  और रश्मि खुराना मौजूद थे जिन्होंने अपनी कविताओं से शाम को काव्यमयी बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। 
भारत से प्रभा चन्दर जी ने ज़ूम के माध्यम से अपनी कविताएं सुना कर तारीफ़ बटोरी। 
इस काव्यमयी शाम में ब्रिटेन के कई शहरों से शामिल होने वाले कवियों में शामिल थे पुष्पा रॉव, केशव निगम, गीता लक्ष्मी निगम, ज़ैनब बुख़ारी, नरेश सूद, उषा सूद, हरमिंदर नागी, मुसर्रत जी, प्रतिमा गिरधर, राज गिरधर, सुधा वशिष्ठ, माया भोजवानी, हेमंत, देवल, शक्ति सरीन, राजा सरीन, प्रभा बेदी, मनोरमा जैन, अरुण फक्के, स्वाति कक्कड़, रजनीश कक्कड़, सौरव मिश्रा, राज चान्द, जस भिखु, दर्शन सोहल, श्रीमती सोहल और तेजेन्द्र शर्मा।  

2 टिप्पणी

  1. गोष्ठीमें भव्यता और दिव्यता दोनों नज़र आई ,आदरणीय जय वर्मा का संयोजन और आदरणीय तेजेन्द्र शर्मा जी का संचालन देखने का अवसर मिला ।
    Dr Prabha mishra

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.