Saturday, May 18, 2024
होमलेखवन्दना यादव का स्तंभ 'मन के दस्तावेज़' - सबसे महत्वपूर्ण कौन है?

वन्दना यादव का स्तंभ ‘मन के दस्तावेज़’ – सबसे महत्वपूर्ण कौन है?

इस समय भारत के पाँच राज्यों में चुनाव की तैयारियाँ जोरों पर हैं। सभी राजनीतिक दल एक-एक वोटर को लुभाने में लगे है। उनके लिए हर एक, और प्रत्येक वोट महत्वपूर्ण है। इसका मतलब हुआ कि अपनी जगह पर हर व्यक्ति महत्वपूर्ण है। 
आइये, इससे आगे बढ़कर इसी मुद्दे को कुछ अलग तरह से देखते है। पूरे वर्ष पढ़ाई करने पर जब परिणाम मन मुताबिक आते हैं, उस समय सबसे ज्यादा खुशी किसे होती है? और यदि परिणाम अच्छे ना आएं तब उसका सबसे गहरा प्रभाव किस पर पड़ता है? यह बताने की जरूरत नहीं है कि परिवार और दोस्तों के बावजूद हर स्थिती को व्यक्ति स्वयं ही झेलता है। 
आपकी खुशी, आपकी सोच पर निर्भर करती है। घटनाओं को जिस तरह आप देखते हैं, उन पर प्रतिक्रिया देते हैं, वह सामने वाले को आपकी मन:स्थिती समझा देता है। इसी तरह जब आपको किसी से मिलकर अच्छा लगता है या किसी व्यक्ति की कोई बात अच्छी लगती है, आप खुश होते है। आइये, इसी बात को हम दूसरी तरह देखते हैं। जब आपको किसी की कोई बात चुभ जाती है, तब दुखी कौन होता है? आपको चोट लगती है, तब दर्द किसे होता है? आपको बुखार होने पर दवा किस को दी जाती है? यानी आपके सुख-दुःख की पहली ख़बर आपको होती है। अपनी भावनाओं को या शारीरिक परेशानी को आप खुद, अन्य लोगों तक पहुंचाते है। 
इसी तरह अपने अच्छे-बुरे या खुशी-ग़म को महसूस करने के क्रम में आप खुद पहले नंबर पर आते हैं। अब यहाँ तक की स्थिती स्पष्ट हो चुकी है। आइये, अब इससे और आगे बढ़ते हैं। होली-दीवाली, गुरू पूरब, ईद या क्रिसमस के मौकों पर आप सबके लिए उपहार खरीदते हैं। बताइये कि पिछले त्योहार पर आपने अपने लिए क्या लिया था? क्या आपने स्वंय अपने लिए, अपनी पसंद का गिफ्ट लिया था? और क्या सच में कुछ लिया भी था या नहीं? 
याद रखिए कि यह जीवन एक ही बार मिला है। इसे भरपूर जी लें। अपने जीवन को त्याग और समर्पण की गाथा मत बनाइये। वह कीजिए जिससे आपको सही मायने में खुशी मिलती है क्यों कि इस दुनिया में आपके लिए सबसे महत्वपूर्ण सिर्फ एक ही व्यक्ति है और वह हैं आप। आज और अभी से अपने आपको प्यार करना सीखिए। अपने मन की बात सुनने की आदत डालिये। खुद को अच्छा-बुरा लगने पर स्वयं को सुनने, महत्व देने की शुरुआत कीजिए क्योंकि आपके जीवन का सबसे महत्वपूर्ण व्यक्ति सिर्फ और सिर्फ आप हैं। 
वन्दना यादव
वन्दना यादव
चर्चित लेखिका. संपर्क - yvandana184@gmail.com
RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Most Popular

Latest

Latest