विविध भारतीय भाषा संस्कृति संगम द्वारा ऑनलाइन कवि सम्मेलन का आयोजन 3
मुंबई की एक अति प्रतिष्ठित संस्था विविध भारतीय भाषा संस्कृति संगमद्वारा, तारीख 7 मई 2023 को ऑनलाइन काव्य सम्मेलन का आयोजन किया गया । संस्था की अध्यक्षा सुश्री लता तेजेश्वर रेणुकाजी साहित्य की सारथी बन इस संस्था को 4 साल से संभालती आई हैं। इस दौरान संस्था की ओर से 2 किताबों का सम्पादन किया जब कि आपकी खुद की 8 किताबें, कई पत्रिकाओं और संकलनों में प्रकाशित हैं। इस संस्था में कई राज्यों के तेलगु, ओडिआ हिंदी, मराठी, गुजराती, पंजाबी उर्दू, कनाडा, भोजपुरी आदि सभी भाषाओं का समावेश रहा है । लताजी ने सभी गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया और संस्था की विस्तृत जानकारी दी । साथ ही स्वयं सरस्वती वंदना प्रस्तुत करके कार्यक्रम का शुभारंभ किया।  
इस संस्था की विशेषता यह है कि ये भारत की सभी भाषाओं को जोड़ते हुए मंच प्रदान करता है। 
कार्यक्रम के अध्यक्ष डॉ. रमेश यादव थे। डॉ रमेश जी का हिन्दी और मराठी दोनों भाषाओं पर समान अधिकार है। वे साहित्य के सभी विधाओं में सर्जना करते है । भारत सरकार द्वारा, महाराष्ट्र सरकार द्वारा और कई प्रतिष्ठित संस्थाओं द्वारा आपका सम्मानित किया जा चुका है ।  
मुख्य अतिथि थे, श्री विजय कुमार तिवारी । तिवारी जी कवि, लेखक, समीक्षक, कहानीकार, उपन्यासकर, जीवनीकार हैं । तात्पर्य यह है की साहित्य की सभी विधाओं में सिद्धहस्त हैं। 
कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि थे, श्री राम शर्मा । शर्मा जी मुंबई की एक संस्था, प्रेमांजलि साहित्य संस्था, मुंबई के संस्थापक और अध्यक्ष हैं । साहित्य के साथ-साथ श्रीराम जी ने  कंप्यूटर ग्राफिक डिजाइन, कैलिग्राफी, आदि में महारत हासिल की है ।  समाज सेवा के लिए अनेकों संस्थाओं द्वारा सम्मानित किया जा चुका है । 
इस कार्यक्रम में श्री लिंगम चिरंजीव राव विशिष्ट अतिथि थे । चिरंजीवी जी की अन्य खूबियों के अलावा, सबसे बड़ी खूबी  यह है के वे अपने कार्यकाल के दौरान, अपना सारा काम हिन्दी में ही करते रहे, जो सराहनीय है।  श्री चिरंजीव जी को कोलकत्ता बंगीय भाषा सेतु द्वारा साहित्य श्री का सम्मान, ओड़ीसा बड़माल आयुधी निर्माणी द्वारा सम्मान पत्र, पंजाबी सभा कोलकत्ता द्वारा सम्मान पत्र, जैसे सम्माननीय सम्मान प्राप्त हुये हैं।  
सम्मेलन में, अहमदाबाद से पधारी डॉ प्रणव भारती जी ने अति आत्मीय ढंग से काव्य पाठ प्रस्तुत किया । सुश्री गायत्री जी ने तेलगु भाषा में, स्नेहा मिश्राजी ने ओड़िआ में कवि पाठ किया साथ ही उसका हिन्दी पाठ भी प्रस्तुत किया । ओमप्रकाश सिंह ने काव्य पाठ किया । सुश्री लता जी ने सैनिकों  को समर्पित कविता प्रस्तुत की गुजरात से हीना मोदी कार्यक्रम में उपस्थित रहीं। 
सुश्री उषा साहू की प्रेम पगी कविता ने सबको भाव-विभोर कर दिया । कार्यक्रम का कुशल संचालन सुश्री उषा साहू ने किया । 
सुश्री गायत्री जी के धन्यवाद ज्ञापन के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ ।
– लता तेजेश्वर,मुंबई

1 टिप्पणी

  1. हमारे संस्था के बारे में खबर छपवाने के लिए आप का बहुत बहुत धन्यवाद आदरणीय।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.