जय वर्मा को हिन्दी सेवा हेतु मिला ‘हाई शैरिफ़’ सम्मान 7प्रसिद्ध लेखिका जय वर्मा को हिन्दी सेवा हेतु मिला ‘हाई शैरिफ़’ सम्मान
दिनांक 23 मार्च, 2022 को  नॉटिंघम शायर के हाई शैरिफ प्रो. हरमिंदर सिंह दुआ सी.बी.ई. द्वारा हिन्दी की प्रसिद्ध लेखिका जय वर्मा को ‘हाई शैरिफ’ अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। गौरतलब है कि ‘हाई शैरिफ’ का पद ब्रिटेन की महारानी द्वारा मनोनित है। इसकी शुरुआत 1068 ई. में हुई थी। तब से लेकर आज तक इस पद का सम्मान स्वैच्छिक संस्थाओं एवं व्यक्ति विशेष को प्रत्येक वर्ष दिया जाता है। जो स्वंयसेवी अपने असाधारण कार्यों से समाज में सकारात्मकता लाते हैं तथा दूसरों के कौशल और प्रभावशीलता को विकसित करने में सहायता करते हैं। उन स्वयंसेवकों को उनके निस्वार्थ सेवा हेतु सम्मानित किया जाता है।
हाई शैरिफ ऑफ़ नॉटिंघम शायर प्रो. हरमिंदर सिंह दुआ सी.बी.ई. ने जय वर्मा के नॉटिंघम में हिन्दी सेवा कार्यों कीजय वर्मा को हिन्दी सेवा हेतु मिला ‘हाई शैरिफ़’ सम्मान 8 सराहना करते हुए कहा कि “नॉटिंघम में हिन्दी को ज़िन्दा रखने में जय वर्मा का बहुत बड़ा योगदान है। वे बच्चों को हिन्दी स्कूल में हिन्दी सिखाने से लेकर कहानियों और कविताओं के माध्यम से हिन्दी के प्रचार-प्रसार में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभा रही हैं।” उन्होंने आगे कहा कि  हिन्दी भारत की राजभाषा है, जो ब्रिटेन और भारत की सभ्यता एवं संस्कृति को जोड़ने में एक सेतु का कार्य करती है।
यह आयोजन नॉटिंघम के इंडियन कम्युनिटी सेंटर में शहीद भगत सिंह की याद में मनाया गया, जिसे प्रत्येक वर्ष 23 मार्च को ‘शहीदी दिवस’ के अवसर पर आयोजित किया जाता है| इस अवसर पर नॉटिंघम के लगभग 150 गणमान्य व्यक्तियों (पुरुष एवं महिला) की उपस्थिति थी, जिसमें कवियों ने अपनी कविताएँ हिन्दी, पंजाबी एवं अंग्रेजी में पढ़ीं।
जय वर्मा को हिन्दी सेवा हेतु मिला ‘हाई शैरिफ़’ सम्मान 9‘फिफ्टी प्लस’ साहित्यिक संस्था के प्रबंधक प्रसिद्ध पंजाबी लेखक श्री संतोख ढालीवाल, सुरेन्द्र सैनी, हरमिंदर नागी तथा लंदन से आए सम्मानित मेहमानों ने अपने वक्तव्य दिए और कविताएँ भी प्रस्तुत की। इस प्रकार यह वार्षिक आयोजन सफलतापूर्वक सम्पन्न हुआ।

2 टिप्पणी

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.