संपादकीय : क्या यूरोप में कोशर और हलाल मीट पर प्रतिबन्ध लगेगा… ?

‘हलाल’ उस भोजन या खाद्य पदार्थ को कहते हैं जिन्हें इस्लामिक मानकों में खाने लायक़ माना जाता है जबकि यहूदी धर्म के लोग जिन चीज़ों को खा सकते हैं उन्हें ‘कोशर’ कहा जाता है। ‘हलाल’ और ‘कोशर’ में क्या समानताएं हैं या फिर क्या...

संपादकीय : कोरोना वैक्सीन भी पॉज़िटिव हुई

भारत में चुनाव हुए हैं। किसान आन्दोलन चल रहा है। बंगाल में राजनीति गरम है। इन सब गतिविधियों से पता चलता है कि भारत में शायद कोरोना की एक नयी वेव आ सकती है क्योंकि न तो चुनावी सभाओं में, न ही किसान आन्दोलन...

संपादकीय : कृषि बिल और किसान आंदोलन

बेचारा कोरोना एक कोने में खड़ा हैरान है कि मैं कैसे देश में फंस गया हूं। यहां का इन्सान दिल्ली और मुंबई की हालत देखने के बावजूद मुझ से डरता नहीं और मज़े में चुनाव की रैलियां करता है और राजधानी का घेराव।  मैंने...

संपादकीय : द्वेष से की गयी ग़ैर-कानूनी कार्यवाही

बॉम्बे हाई कोर्ट ने यह भी कहा है कि सामना में छपे लेख से प्रतीत होता है कि कंगना द्वारा मुंबई को पी.ओ.के. जैसा बताने के बाद यह कार्रवाई हुई है। कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि कंगना को धमकाने लिए बाहुबल का इस्तेमाल किया...

संपादकीय : एक और आतंकवादी मुठभेड़, पाकिस्तान और हाफ़िज़ सईद

पाकिस्तान ने जमात-उद-दावा के सरगना हाफ़िज़ सईद को दस साल की कैद की सज़ा सुना दी है। वह पहले ही तथाकथित 11 साल की सज़ा काट रहा है और अब ये दोनों सज़ाएं साथ साथ चलेंगी। हाफ़िज़ सईद पहले भी पाकिस्तान सरकार के दामाद...

संपादकीय : चलो ट्वीट-ट्वीट खेलते हैं…!

किसी भी अवार्ड वापसी गैंग का कोई केस सुप्रीम कोर्ट जाता है तो कपिल सिब्बल और सिंघवी काला कोट पहन कर वहां पहुंच जाते हैं। क्या कानून मन्त्री रविशंकर प्रसाद अर्णब गोस्वामी के मामले में अपना काला कोट नहीं पहन सकते थे? कम से...