“भाभी कित्ता अच्छा होता ना हम कुत्ता बनकर पैदा होते तो” ..उस दिन सुबह सुबह बर्तन मांझते हुए मेरी हेल्पर सुमन बोली.
“तेरा दिमाग खराब हो गया है क्या ? सुबह सुबह क्या कह रही है.” मैंने कहा. 
“अरे भाभी  हमसे अच्छे तो ये कुत्ते हैं ..इन्हें कोई मारे तो तुरंत पुलिस आ जाती है ..लोग इनके बचाव में लड़ रहे हैं ..और एक हम हैं रोज दारु पीकर आदमी हमारी हड्डियाँ तोड़ता है फिर भी कोई नहीं आता बचाने ..और पुलिस शिकायत तक दर्ज नहीं करती, खाते रहो धक्के |”

अर्चना चतुर्वेदी की चुटकी - अगले जनम मोहे कुत्ता ही कीजो 3

सुमन की बात सुनकर मेरी बोलती बंद हो गयी ..सच ही तो है हमारी सोसाईटी में कुत्तों को लेकर हंगामा हो रहा था .. रोज आवारा कुत्ते किसी ना किसी को काट लेते हैं पर कोई कुछ नहीं कर पा रहा है.. पुलिस भी हाथ खड़े कर देती है| एन जी ओ वाले कुत्तों के बचाव में खड़े हो जाते हैं, एनिमल्स के अधिकारों की बातें होती है और हम मनुष्य उनसे पिछड़ जाते हैं | मै सोच ही रही थी कि सुमन फिर बोली… 
“भाभी ऐसी इंसानी की जिन्दगी से तो हमें भगवान कुत्ता ही बना दे तो अच्छा ..मैं तो व्रत करुँगी और मन्नत मांगूंगी, भगवान मुझे अगले जन्म में कुत्ता ही बना दे किसी अच्छे खानदान का..अरे ना डौगी.” सुमन बोलती जा रही थी मुझे हँसी आ गयी. 
“अच्छे खानदान का कुत्ता क्या होता है री ?”
“अरे भाभी वही वाला जिसे लोग खरीद कर लाते हैं ..नामकरण करते हैं ..गाड़ी में घुमाते हैं ..ए सी में सुलाते हैं ..दूध और बढ़िया वाला खाना खिलाते हैं ..हमारी भी कोई जिन्दगी है, गर्मी में पसीना बहाते घूमें..हाड़ तोड़ मेहनत करें और फिर भी भरपेट खाना नसीब ना हो. और पता है भाभी कुत्ते को मेरा बच्चा प्यारा बच्चा कहते हैं ..घर के लोग उस के मुहँ पर मुहँ सटा कर पप्पी भी लेते हैं ..कितना प्यार करते हैं ना ..हमें तो भई अगले जन्म में कुत्ता ही बनना है ..बढ़िया वाला पट्टा पहन कर, अकड़ के साथ चलूंगी, गाड़ी की खिड़की में स्टाइल से गर्दन निकाल कर बाहर का नजारा लूंगी और दीदी यदि सलमान खान या करीना का डौगी बनी तब तो अखबार में फोटो भी आएगी ..अहा क्या जिन्दगी होगी.” 
मै हँस तो रही थी पर उसकी बातों के पीछे छिपे दर्द को समझ भी रही थी. कुछ बोलती तब तक वो फिर बोली, “भाभी आपको पता है वो 303 वाली दीदी छोटा सा पप्पी लाई हैं…”
“अच्छा वो दोनों लड़की लड़के जो रहते हैं ?” 
“हां दीदी शादी को तीन साल हो गए कोई बच्चा नहीं है ..हमने उनसे कहा कि बच्चा करने की उम्र में ये पप्पी क्यों ले आई तो पता है क्या बोली ?”
“क्या ?”   
“वे बोली हम अपना कोई बच्चा नहीं करेंगे बहुत जिम्मेदारी होती है बाबा बच्चे की ..अब यही है हमारा बच्चा…हमारा प्यारा रोबो ..बताओ भाभी अब तो बच्चे भी ये ही हैं | अब तो बस भगवान अगले जन्म में मुझे भी कुत्ता ही बना दे..” कह कर सुमन तो काम में लग गयी |
मै मन ही मन बुदबुदाई… 
“अगले जनम मोहे कुत्ता ही कीजो”

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.